Kamal Haasan biography
- All Posts, biography

कमल हसन की बायोग्राफी | Kamal Haasan biography in Hindi

कमल हसन की बायोग्राफी | Kamal Haasan biography in Hindi

Kamal Haasan biography

कमल हसन एक भारतीय अभिनेताओं में से एक माने जाते हैं, जो अभिनय में अपनी बहुमुखी प्रतिभा के लिए प्रसिद्ध है।

कमल हसन की एक बाल कलाकार के रूप में कलतुर कत्रम्मा उनकी पहली फिल्म थी, जिसके कारण उन्होंने राष्ट्रपति का स्वर्ण पदक जीता था।

तब से, कमल हसन ने तमिल, तेलुगु, कन्नड़, मलयालम और हिंदी में 150 से अधिक फिल्मों में अभिनय किया है।

कमल हसन एक प्रोडक्शन कंपनी, राजकमल इंटरनेशनल के मालिक हैं।

Kamal Haasan biography

कमल हसन का व्यक्तिगत जन्म 

कमल हसन का जन्म 7 नवम्बर 1954 को एक हिन्दू परिवार में हुआ। उनके पिताजी डी. श्रीनिवास एक वकील थे और उनकी माँ राजलक्ष्मी गृहिणी थी।

कमलहसन ने मद्रास जाने से पहले परमकुड़ी में ही प्राथमिक पढाई पूरी की और बाद में उनके भाइयो की आगे के पढाई के लिए उन्हें भी चेन्नई जाना पड़ा।

जब वो मद्रास के संथोम में पढाई कर रहे थे तो उनकी फिल्मो और फाइन आर्ट में रुची बढ़ने लगी थी और साथ ही उनके पिताजी भी उन्हें प्रोत्साहित करते थे।

Kamal Haasan biography

फिल्मी सफर व निजी जीवन

कमल हासन एक भारतीय फिल्म अभिनेता, पटकथा लेखक और फिल्म निर्माता है। अभिनय और निर्देशन के अलावा, वह एक पटकथा लेखक, गीतकार, पार्श्व गायक और कोरियोग्राफर हैं।

वर्ष 1978 में कमल हासन ने ‘वाणी गणपति’ से विवाह कर लिया, किंतु दस साल बाद ही 1988 में इन दोनों का रिश्ता टूट गया। इसके बाद से ही कमल हासन ने सारिका से शादी कर ली।

सारिका से कमल हासन की दो बेटियां है श्रुति हासन और अक्षरा हासन। साल 2004 में कमल हासन और सारिका ने तलाक ले लिया।

कमल हासन ने अपने सिने career की शुरुआत बतौर बाल artist 1960 में प्रदर्शित फ़िल्म ‘कलाधुर कमन्ना’ से की।

जाने माने निर्देशक ए.भीम सिंह के निर्देशन में बनी इस फ़िल्म में उन्होंने अपने दमदार अभिनय से न सिर्फ दर्शकों का दिल जीता, बल्कि वह राष्ट्रीय पुरस्कार से भी सम्मानित किए गए।

फ़िल्म कलाधुर कमन्ना की सफलता के बाद कमल हसन को साल 1961 की ‘थयइल्ला पिल्लई’ , साल 1962 की ‘पारथल पसी थीरूम’ , ‘पथा कन्नीकई’ और साल 1963 की ‘वनामबडी’ , जैसी फ़िल्मों में बतौर बाल कलाकार अभिनय करने का मौका मिला जिन्हे उन्होंने बहुत बखूबी से निभाया।

Kamal Haasan biography

के. बालचंदर ने कमल हसन को अपनी फिल्म अपूर्व रागंगल में एक प्रमुख actor को ब्रेक दे दिया और तब से, उन्होंने कभी फिल्मों की तरफ मुड़ के नहीं देखा।

एक बहुमुखी अभिनेता के रूप में कमल हसन ने विभिन्न भूमिकाएं निभाई हैं। राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय cinema में अपने अभिनय कौशल को साबित कर दिया है।

अभिनेता कमल हसन की क्षमता 16 वायदोंली, नायकन, गुना, महानदी, हे राम, सदमा, चाची 420 और अलवंडन जैसी फिल्मों के रूप में स्पष्ट है, जो उनकी सर्वश्रेष्ठ भूमिकाओं में से एक हैं।

कमल हसन एक प्रशिक्षित भरतनाट्यम नर्तक हैं। कमल हसन की कुछ बॉलीवुड फिल्में जैसे एक दूजे के लिए, सदमा, सनम तेरी कसम, गिरफ्तार, सागर, राज तिलक और चाची 420 सुपर हिट हुई हैं।

वर्ष 1975 में प्रदर्शित फ़िल्म ‘अपूर्वा रंगनागल’ में मुख्य अभिनेता के रूप में निभाए गए किरदार से उन्हें पहचान मिली।

1977 में प्रदर्शित फ़िल्म ’16 भयानिथानिले’ की व्यावसायिक सफलता के बाद कमल हासन स्टार कलाकार बन गए।

निर्माता एल.वी. प्रसाद की फ़िल्म ‘एक दूजे के लिए’ में अभिनय किया। फ़िल्म में कमल हासन ने अपने अभिनय से दर्शकों का दिल जीत लिया।

Kamal Haasan biography

1982 कमल हसन की एक और सुपरहिट तमिल फ़िल्म ‘मुंदरम पिरई’ रिलीज़ हुई,

1985 में कमल हसन रमेश सिप्पी के फिल्म ‘सागर’ में ऋषि कपूर और डिंपल कपाडिया के साथ नज़र आये।

1985 में कमल हासन की एक और सुपरहिट फ़िल्म ‘गिरफ़्तार’ प्रदर्शित हुई, जिसमें उन्हें सुपरस्टार अमिताभ बच्चन के साथ काम करने का मौका मिला।

वर्ष 1981 वह दौर था जब कमल हसन अपनी पहली हिंदी फिल्म से सुपर हित हो गए। निर्माता एल.वी. प्रसाद की फिल्म एक दूजे के लिए में अभिनय किया।

फिल्म में उन्होंने एक ऐसे युवक की भूमिका निभाई जो दुसरे धर्म की लड़की से प्यार करने लगता है, जबकि दोनों के परिवार वाले इस रिश्ते के सख्त खिलाफ है.

फिल्म में कमल हसन ने अपने अभिनय से दर्शकों का दिल जित लिया। वर्ष 1982 कमल हसन की एक और सुपरहिट तमिल फिल्म मुंदरम पिरई रिलिज हुई, जिसके लिए वह अपने सिने कैरियर में पहली बार सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के राष्ट्रीय अवार्ड से सम्मानित किए गए।

बाद में वर्ष 1983 में सदमा शीर्षक से यह फिल्म हिंदी में रिलीज हुई जिसके कई दृश्य में कमल हसन ने एक ऐसे युवक कि भूमिका निभाई.

जो एक युवती कि याददाश्त खो जाने के बाद उसे सहारा देता है और बाद में उससे प्यार करने लगता है, लेकिन बाद में जब युवती कि याददाश्त लौट कर आ जाती है तो वह उसे भूल जाती है और इस सदमें को कमल हसन सहन नहीं कर पाते हैं और पागल हो जाते हैं।

Kamal Haasan biography

हालांकि फिल्म टिकट खिड़की पर असफल हुई, लेकिन सिने दर्शक आज भी ऐसा मानते हैं कि कमल हसन के सिने करियर कि यह सर्वश्रेष्ठ फिल्मों में से एक है।

अवार्ड्स की दृष्टि से पद्मश्री धारक कमल हासन, भारतीय सिनेमा के इतिहास में सबसे अधिक सम्मानित अभिनेता हैं।

उनके नाम सर्वाधिक राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार, सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार तथा सर्वश्रेष्ठ बाल कलाकार पाने वाले अभिनेता होने का रिकॉर्ड दर्ज है।

इसके अतिरिक्त कमल हासन, पांच भाषाओं में रिकॉर्ड फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार धारक हैं और उन्होंने 2000 में नवीनतम पुरस्कार के बाद संगठन से ख़ुद को पुरस्कारों से मुक्त रखने का आग्रह किया।

Kamal Haasan biography

पुरस्कार व खिताब

कमल हासन को सर्वश्रेष्ठ विदेशी भाषा फ़िल्म के लिए अकादमी पुरस्कार प्रतियोगिता में भारत द्वारा प्रस्तुत सर्वाधिक फ़िल्मों वाले अभिनेता होने का गौरव प्राप्त है।

कमल हासन को साल 1990 में भारत सरकार द्वारा पद्म श्री भी दिया जा चुका है। मलयालम में उनकी पहली फ़िल्म साल 1974 में ‘कन्याकुमारी’ के नाम से आई, लेकिन इसी साल आई तमिल फ़िल्म ‘अपूर्वा रागांगल’ के लिए उन्हें पहली बार ‘साउथ फ़िल्मफेयर अवार्ड’ से सम्मानित किया गया।

इस फ़िल्म के लिए उन्हें साउथ का सर्वश्रेष्ठ अभिनेता चुना गया। अपूर्वा रागांगल साउथ की एक बेहतरीन क्लासिकल फ़िल्म मानी जाती है।

इस फ़िल्म में उनके साथ साउथ के सुपरस्टार रजनीकांत भी थे। कमल हासन को वर्ष 1982 में पहला राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार ‘मूनद्रम पिरई’ फ़िल्म में भूमिका के लिए दिया गया था।

उनके नाम कुल 15  साउथ फिल्मफेयर अवार्ड्स है जो उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के लिए मिले हैं जो अपने आप में एक record है।

Kamal Haasan biography

सामाजिक कार्य

हसन ने अपने प्रशंसक क्लब को कल्याण संगठनों में बदल दिया। कमल हसन क्लबों के माध्यम से विभिन्न सामाजिक गतिविधियों में शामिल होने के लिए जाने जाते हैं।

कमल हसन के प्रशंसक क्लब ने रक्त और आंख दान ड्राइव का आयोजन किया है और यहाँ तक कि कई अवसरों पर छात्रों को शैक्षिक सामग्री भी दान कर दी है।

हाल ही में भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वच्छ भारत अभियान के लिए हसन को नामित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *